Intermediate 12th physics very short answer type questions

By | March 20, 2022

Table of Content

Intermediate 12th physics very short answer type questions qusetion model set  for 2022 bihar and up baord ke liye

class twelve physics very short type Question bank in hindi

यहाँ पर आपको बिहार बोर्ड का मॉडल प्रश्न सेट मिलगा लघु उतरिय questions के लिए solution के साथ model paper 2022 class 12 bihar board solution

q.1 किसी वास्तु का धनातमक एवं ऋणात्मक आवेशित होने का आशय बताईये|

ANS. सामान्य अवस्था की तुलना में किसी वास्तु में इलेक्ट्रान की कमी उसके धनावेशित होने को तथा इलेक्ट्रान की अधिकता होने उसका ऋणआवेशित होने को पर्दर्शित करता है या दिखाता है|

Q2. ठीक बराबर द्रव्यमान के धातु के दो सर्वसम गोले लिए गये हैं, एक को q ऋण आवेश तथा दुसरे को उतने हिन् धनावेश से आवेशित किया गया है , तो क्या दोनों गोलों के द्रव्यामान्न में कोई अंतर आयेगा ? यदि हाँ ,तो क्यों?

ANS. धनावेशित गोले के द्रव्यमान में जितनी कमी अयेगा उतना हिन् ऋण आवेशित गोले के द्रव्यमान में उतनी ही बढ़ोतरी होगा |

कारण- एक गोले को धनावेशित करने का मतलब है की उसमे से इलेक्ट्रान को निकाल देना दुसरे गोले का ऋण आवेशित करने  का मतलब है की उसमे इलेक्ट्रान को जोड़ देना |

यहाँ से हमें साफ साफ समझ आ रहा है की इसका मतलब इलेक्ट्रान का कमी मतलब द्र्व्यामान कम होना ठाठ इलेक्ट्रान की अधिकता होने के मतलब है की इसका द्रव्यमान बढ़ जाना होता है|

 

Q.3. (q1 + q2=0) स्थिर वैद्युतकी में क्या दर्शाता है?

ANS. q1+q2=0

          q1= -q2

अर्थात, q1 तथा q2 परिमाण में बराबर तथा उनका प्रकृति असमान है |

स्थिरवैद्युतकी में यह आवेश संरक्षण के नियम को दर्शाता है|

Q.4. आवेश संरक्षण का नियम क्या है ? दो उदाहरण भी दीजिये|

ANS. आवेश संरक्षण का नियम “आवेश ना तो उत्पन्न किया जा सकता है और न ही नष्ट किया जा सकता है”

आवेश संरक्षण का नियम के दो उदहारण –

  1. आयनीकरण क्रिया- जब नमक को जल के साथ घोला जाता है तो आयनीकरण के फलस्वरूप वह सोडियम तथा क्लोराईड आयनों में विभक्त हो जाता है|

      NaCl→Na(+)+Cl(-)

     2. नाभिकीय विखंडन युरेनियम-235 पर मंदगामी न्यूट्रॉन की बमबारी करने से होने वाली विखंडन क्रिया | 

         

Q.5. आवेशन का कारण क्या है?

ANS.इलेक्ट्रान का ट्रान्सफर एक वस्तु से किसी दुसरे वस्तु पे|

Q.6. विद्युत आवेश के क्वान्तामिकरण से क्या समझते है? अथवा विद्युत आवेश की परमाणुकता किसे कहा जाता है?

ANS.प्रत्येक आवेशित वस्तु पर उपस्थित आवेश का परिमाण कि एक न्युनतम मात्रा (e = 1.6 x 10^-19 coulomb ) का पूर्ण गुणज होता है |

q=neजहाँ n = 1,2,3,….)

वैदुत आवेश का यह गुण (e का पूर्ण गुणांक) विद्युत आवेश का क्वान्त्मिकरण(Quantization) कहलाता है|

इसे विद्युत आवेश की परमाणुकता भी कहा जाता है|

Q.7. वैद्युत आवेश के क्वांटमिकरण का मूल कारण क्या है?

ANS. Quantisation का मूल/ मुख्य कारण यह है की एक वस्तु से दूसरी वस्तु ,इलेक्ट्रान का ट्रान्सफर केवल पूर्णांक संख्या में हो सकता है|

Q.8. वैद्युत आवेश का न्यूनतम संभव मान क्या है?

ANS. मूल आवेश का न्यूनतम संभव मान e =1.6×10^-19 कूलम्ब होता है|

Q.9. वैद्युत आवेश के S.I मात्रक का परिभाषा दीजिये?

ANS. विद्युत आवेश का SI मात्रक कूलम्ब होता है 

परिभाषा- एक कूलम्ब वह आवेश है जो अपने सामान परिमाण के आवेश को वायु में या निर्वात में रखने से अपने से 1 मीटर की दुरी पर रखने पर उसमे 9X10^9 N बल से प्रतिकर्षित करता है|

Q.10. विद्युत आवेश के दो मूल गुण लिखिए?

ANS. 

  1. आवेश के संरक्षण 
  2. आवेश का क्वांटमिकरण 
Class 12th physics ka quesion answers hindi me Board Pariksha ke liye importaant
Q.11 एक निश्चित दुरी पर दो इलेक्ट्रानो के बिच विद्युत बल F newtonहै| है इससे आधी पर स्थित दो प्रोटोन के बिच विद्युत बल कितना होगा |

ANS.

4F

(चुकी इलेक्ट्रान और प्रोटोन का द्रव्यमान सामान होता है और इनके बिच लगने वाला बल उनके बिच के दुरी के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती होता है|)

Q.12.कुलाम के नियम का क्या परिसीमाएं हैं?

ANS. कुलाम का नियम दो स्थिर विद्युत आवेशो के लिए वैद्य  या सत्य है| तथा आवेश के बिच की दुरी r<10^ – 15 meter के लिए सत्य नहीं है|

Q.13. किसी माध्यम की परद्युतांक की परिभाषा दीजिये?

ANS.किसी माध्यम की निरपेक्ष विद्युत्शील तथा वायु यह निर्वात की विद्युत् सिलता का अनुपात माध्यम का पारावैद्युतांक कहलाता है|

 

Q.14. किसी माध्यम की परद्युतांक की परिभाषा दीजिये?

ANS.किसी माध्यम की निरपेक्ष विद्युत्शील तथा वायु यह निर्वात की विद्युत् सिलता का अनुपात माध्यम का पारावैद्युतांक कहलाता है|

 

model paper 2021 class 12 bihar board solution in hindi medium

Category: Home

About admin

Ashok kumar I have done Mechanical Engineering, I am an aspirant so i would initiated this educational Bloag to serve our juniors or who ever willing to learn

Thank you sir!